dard bhari, gam bhari shayari, dukh bhari shayari, shayari dard bhari, dukh shayari, dard bhari shayari hindi, dil bhari shayari, dard bhari shayari hindi mein, gam bhari shayari hindi, dard ki shayari, sad dard bhari shayari, shayari dukh bhari, hindi dard bhari shayari, dard bhari hindi shayari, hindi shayari dard bhari, dard bhari shero shayari, shayari dard bhara, shayari likhi hui, dukh ki shayari,

हाल तो पूछती नहीं दुनिया जिंदा लोगों का !!
चले आते हैं लोग जनाजे पर बारात की तरह !!

मिलता भी नहीं तुम्हारे जैसे इस शहर में !!
हमको क्या मालूम था के तुम भी किसी और के हो !!

dard bhari,
gam bhari shayari,
dukh bhari shayari,
shayari dard bhari,
dukh shayari,
dard bhari shayari hindi,
dil bhari shayari,
dard bhari shayari hindi mein,
gam bhari shayari hindi,
dard ki shayari,
sad dard bhari shayari,
shayari dukh bhari,
hindi dard bhari shayari,
dard bhari hindi shayari,
hindi shayari dard bhari,
dard bhari shero shayari,
shayari dard bhara,
shayari likhi hui,
dukh ki shayari,

जो कभी डरा ही नहीं मुझे खोने से !!
वो क्या अफसोस करता होगा मेरे ना होने से !!

कभी सोचा करता था कैसे रह पाऊँगा तेरे बिना !!
देख तूने ये भी सिखा दिया मुझे !!

नहीं तुम्हारी गलती नहीं है !!
हमने ज्यादा उम्मीद कर ली थी आपसे !!

हो गया जो होना था अब सिर्फ जीना है !!
सबको Ignore करके !!

दर्द के सिवा कुछ नहीं मिला मुझे जमाने से !!
अब तो थक गया हूं मैं यूं बेवजह मुस्कुराने से !!

मोहब्बत भी ऐसी है कि वह खुदा भी सोचते होंगे !!
जो पहले ही मर चुकी है उसे मारूंगा कैसे !!

जो इलज़ाम रह गया हो !!
वो मेरे कफ़न पर लिख देना !!

खामोशी बेसबब नहीं होती !!
दर्द आवाज छीन लेता है !!

Matlabi duniya status in hindi | मतलबी दुनिया स्टेटस

Dard Bhari Shayari in Hindi

आँसू भी आते हैं और दर्द भी छुपाना पड़ता है !!
ये जिंदगी है साहब यहां जबरदस्ती मुस्कुराना पड़ता है !!

दर्द मोहब्बत का ऐ दोस्त बहुत खूब होगा !!
न चुभेगा न दिखेगा बस महसूस होगा !!

जा और कोई दुनिया तलाश कर ऐ इश्क़ !!
हम तो अब तेरे क़ाबिल नहीं रहे !!

खुद ही रोए और खुद ही चुप हो गए !!
ये सोचकर की कोई अपना होता तो रोने ना देता !!

जिस शहर में दिन रात बरसती रहें आँखें !!
उस शहर को बारिश की ज़रुरत नहीं होती !!

ख्वाहिशो का गला घोटा !!
तब जाके हलक से साँसे उतरी !!

दुआ करना दम भी उसी दिन निकले !!
जिस दिन तेरे दिल से हम निकले !!

अच्छी थी कहानी मगर अधूरी रह गई !!
इतनी मोहब्बत के बाद भी दूरी रह गई !!

मेरी कोशिश कभी कामयाब ना हो सकी !!
ना तुझे पाने की ना तुझे भुलाने की !!

ना मेरा दिल बुरा था ना उसमे कोई बुराई थी !!
बस नसीब का खेल है क्योंकि किस्मत में जुदाई थी !!

Dard Bhari Shayari

जिंदगी तू भी कच्ची पेंसिल की तरह है !!
हर रोज थोड़ी कम होती जा रही है !!

कुछ राज़ तो क़ैद रहने दो मेरी आँखों में !!
हर किस्से तो शायर भी नहीं सुनाता है !!

तुम भी कर के देख लो मोहब्बत किसी से !!
जान जाओगे कि हम मुस्कुराना क्यों भूल गए !!

तेरे वादें तू ही जाने मेरा तो आज भी वही कहना है !!
जिस दिन सांस टूटेगी उस दिन आस छुटेगी !!

नसीहत अच्छी देती है दुनिया !!
अगर दर्द किसी ग़ैर का हो !!

किसी के दर्द की दवा बनो !!
जख्म तो हर इन्सान देता है !!

दर्द भी उनको मिलता है !!
जो रिश्ते दिल से निभाते है !!

जो आपकी ख़ुशी छीन ले उसके पीछे !!
रोने का कोई फायदा नहीं !!

मुझे रुलाने की कोशिश भी मत करना !!
मेरी परवरिश ही दर्द ने की है !!

जिनपे होता है दिल को भरोशा !!
वक़्त पड़ते ही वही लोग दगा दते है !!

Dukh shayari

आते जाते रहा कर ए दर्द तू तो मेरा !!
बचपन का साथी है !!

मेरी सारी बात अनसुनी कर के !!
चली गई वो मेरे दिल की बस्ती सूनी करके !!

क्या हुआ अगर दिल के बदले दिल नहीं मिला !!
भगवान भी हर पूजा के बदले दर्शन नहीं देते !!

हमारी मोहब्बत भले ही अधूरी है !!
पर तेरी ख़ुशी मेरे लिए आज भी जरूरी है !!

इश्क की कैसी बेबसी है !!
आंखों में आंसू और लबों पर हंसी हैं !!

कहते हैं सच्चा प्यार जरूर मिलता है !!
फिर मुझे मेरा प्यार क्यों नहीं मिला !!

मेरी मोहब्बत को मंजिल नहीं मिली तो क्या !!
खुदा भी तो हर किसी को नहीं मिल पाता !!

फिर एक दिन बेचैन होकर वह मुझे सोचेगा
जब एक दिन उसी की तरह उसे कोई और छोड़ेगा !!

वह सोचती होगी आराम से सो रहा हूं मैं !!
उसे क्या पता उससे बिछड़ कर बहुत रो रहा हूं मैं !!

इस जगमगाती रोशनी में भी बेजान खामोशी छाई है !!
जब से उस बेवफा की याद इस दिल को आई है !!

Shayari dukh bhari

लबों पर हर रोज एक नया झूठ सजाया जाता है !!
जब से टूटा है दिल बेवजह ही मुस्कुराया जाता है !!

बेहतर है अकेले रहो लोग तो बीच राह छोड़ जाते हैं !!
वादे सारी उम्र के करके दूसरे ही पल तोड़ जाते हैं !!

अपनी चादर के अंदर तूने भी बहुत से राज फेरे हैं !!
आंखों तो तेरी हैं पर उनमें से बहने वाले आंसू मेरे हैं !!

तुझसे बिछड़ कर जाने हम क्यों जिंदा है !!
खुदा कसम तुमसे इश्क करके हम बहुत शर्मिंदा है !!

खफा जिंदगी से नहीं अपने सपनों से है !!
गैरों की परवाह नहीं दर्द बस अपनों से है !!

छोड़ नहीं सकते हम अपनी आदतें जनाब !!
ईमान बेच के जीने की आदत नहीं है हमारी !!

मेरे जिस्म को नहीं तूने मेरी रूह को सताया है !!
आंखें तो बस जरिया है तूने दिल को रुलाया है !!

बहम निकाल दो कि कोई प्यार करता है !!
जो रुला सकता है वह भुला भी सकता है !!

जिस अपने से थी हमारी पूरी पहचान !!
आजकल वही क्यों है हमारे दर्द से अनजान !!

मोहब्बत भी उनसे हुई जिन्हें हमारा कोई ख्याल नहीं !!
दिल भी उसे दे बैठे कमबख्त जिन्हें हमसे प्यार नहीं !!

Dard bhari hindi shayari

बर्दाश्त की हद से गुजरने लगा है यह दर्द !!
छुपाते आए हैं जो आंसू वह अब छुपाए नहीं जाते !!

जब हम अपने अंदर से दर्द को खत्म नहीं कर पाते !!
तो वही दर्द हमें अंदर से खत्म कर देता है !!

अपनी यादों का जहर कुछ इस तरह पिलाया उसने !!
अपने हाथों से मेरे जिस्म को जलाया उसने !!

दिल टूटा है संभलने मे कुछ वक़्त तो लगेगा !!
हर चीज इश्क़ तो नहीं की एक पल में हो जाए !!

तेरे चले जाने के बाद इतने गम मिले की !!
तेरे जाने का गम भी याद ना रहा !!

मेरे दर्द का जरा सा हिस्सा लेकर तो देखो !!
सदियों तक याद करते रहोगे तुम भी !!

नफरत बदसूरती से नहीं बदसूरत दिल से होती है !!
क्योंकि धोखा तो खूबसूरत चेहरे ही देते हैं !!

अदाएं कातिल होती हैं !!
आँखें नशीली होती हैं !!

मोहब्बत में अक्सर होंठ सूखे होते हैं !!
और आँखे गीली होती हैं !!

मोहब्बत हाँथ में पहनी हुई चूड़ी के जैसी है !!
संवारती है खनकती है खनक कर टूट जाती है !!

Free Fire Shayari In Hindi | फ्री फायर शायरी

Hindi dard bhari shayari

तुमने वफा करना नहीं सीखा ना सही !!
हम दुआ करते हैं कि तुम्हे कोई बेवफा ना मिले !!

उसकी नफरत का जहर इतना चढ़ गया है !!
की अब किसी की भी मोहब्बत का स्वाद नहीं चढ़ता !!

आईना मेरा मेरे अपनों से बढ़कर निकला !!
जब भी मैं रोया कमबख्त मेरे साथ ही रोया !!

रख लो दिल में संभाल कर थोड़ी सी याद मेरी !!
रहे जाओ गए जब तनहा तो काम आएंगे हम !!

दर्दे दिल की आह तुम ना समझोगे कभी !!
हर दर्द का मातम सरेआम नहीं होता !!

नसीबदार हैं वह लोग जिनके हिस्से में चीनी आई है !!
एक हमें देखो तुमने जैसे छोड़ा हमें पीनी आई है !!

औरों के गुनाह की गवाही देने वालों !!
कभी अपनी शराफत का भी सबूत पेश करो !!

बहुत ही करीब से देखा हूं दुनिया को !!
तभी तो आज मैं सबसे दूर बैठा हूं !!

यकीन मानो तकलीफ तो बहुत हैं !!
लेकिन किसी से बया करूं ऐसा जिंदगी में कोई नहीं !!

कौन कहता है नफरतों मैं दर्द होता है !!
कुछ मोहब्बत बड़ी कमाल की होती है !!

Shayari dard bhara

तेरी यादों को पसंद आ गयी मेरी आँखों की नमी !!
हँसना चाहूँ भी तो रुला देती है तेरी कमी !!

रोती हुई आँखे कभी झूठ नहीं बोलती क्योंकि !!
आँसू तभी आते हैं जब कोई अपना दर्द देता !!

यूंही नहीं याद आते हैं वो बचपन के दिन !!
जिंदगी के बोझ से तो हल्का ही था वो स्कूल बैग !!

साथ ना रहने के बहाने होते हैं सिर्फ !!
जिसे रहना हो वो परिवार तो क्या !!
ऊपर वाले से भी लड़ जाता है !!

तूने दिल में खंजर मार के
आंखों में पानी दीया है !!
सोचा नहीं था तू इतनी बड़ी बेवफा है !!

तू उदास ना हो लाइफ टाइम तुझसे प्यार करूँगा
जान जल्द ही वो दिन आने वाला है !!
जब मै तेरी मांग भरूंगा !!

क्या बेचकर खरीदें तुझे ऐ-मोहब्बत !!
सब कुछ तो बिक चुका है !!
बेवफा के बाजार में !!

बेहिसाब गम में खुश रहने की कोशिश जारी है !!
उसने हमें भूल दिया तो
अब हमें भी उसे भूल जाने की बारी है !!

जिस शहर में बातों से पहले !!
रातें खत्म हुआ करती थी !!
आज उस शहर में खामोशी का पहरा है..!!

मोहब्बत के नाम पर धोखा दिया है तुमने !!
मेरी बद्दुआ है कि तुम्हें कभी !!
मोहब्बत नसीब ना हो !!

Dard ki shayari

रोना भी छोड़ दिया हमने यह सोचकर !!
कि कहीं खुदा मेरे आंसुओं का हिसाब !!
तुमसे ना ले ले !!

कैसे भरोसा कर लिया मैंने उसके प्यार पर !!
वह भी तो औरों की तरह ही मजा लेता है !!
मुझे दूसरों की नजरों में गिरा कर !!

जिन पर ज्यादा भरोसा हो वो जज्बातों से खेल जाते हैं !!
इस मतलबी दुनिया में अपने ही !!
अपनों का दिल तोड़ जाते हैं !!

अधूरी पड़ी ख्वाहिशों की आवाज है !!
किस कसूर की सजा मिली
जो मेरी मोहब्बत आज मुझसे नाराज है !!

ये दर्द तो मोहब्बत को निभाने की सज़ा है !!
हँसते हैं तो आँखों से निकल आते हैं बहुत आँसू !!
ये तो उस शख्स से दिल लगाने की सज़ा है !!

यह मोहब्बत का दर्द भी अजीब होता है !!
दर्द तो बहुत होता है !!
लेकिन ना सुना सकते हैं ना बता सकते हैं !!

मोहब्बत भी कैसे दिन दिखाता है !!
जिसके पास रह ना चाहो
उसी से दूर रहना पड़ता है !!

ठुकरा के मेरी मोहब्बत !!
मुझे तड़पाओ ना बहुत दूर रह लिया !!
अब पास आ जाओ ना !!

ना तुमसे अब मोहब्बत रही और ना तुझसे कोई वास्ता !!
अपना हाल-ए-दिल बयां करने का !!
शायरी ही थी आखिरी रास्ता !!

मजबूरियों के आगे अपने फैसले को दफन किया !!
मुश्किलों से मिली थी जिंदगी !!
हमने उसको भी कफ़न दिया !!

Sad dard bhari shayari

अब तो ग़मों से दोस्ती हो गई है साहब !!
अब चाहे गम हो या खुशी !!
दोनों में मुस्कुराना पड़ता है !!

सुना था प्यार अंधा होता है !!
मगर इस अंधे प्यार ने तो मुझे
पूरी दुनिया दिखा दी !!

तेरे ना होने से कुछ नहीं बदला !!
बस कल जहाँ दिल होता था !!
आज वहाँ दर्द होता है !!

दर्द भरी शायरी हिंदी में !!
हमें नही आता अपने दर्द का दिखावा करना !!
बस अकेले रोते हैं और सो जाते हैं !!

महफ़िल में गले मिलके वो धीरे से कह गए !!
ये दुनिया की रस्म है !!
इसे मोहब्बत न समझलेना !!

दर्द भरी शायरी हिंदी में लिखी हुई !!
हालात कह रही है अब वो याद नही करेंगे !!
और उम्मीद कह रही है थोड़ा और इंतजार कर ले !!

दिल का दर्द ब्यान करना अगर !!
इतना ही आसान होता !!
तो लोग गीतों का सहारा ना लेते !!

अगर खुदा ने पूछा तो कह देंगे हुई थी !!
मोहब्बत मगर जिससे हुई !!
हम उसके काबिल न थे !!

चाहे कितना भी हंसो खेलो दुनिया के मेले में !!
लेकिन जो दिल में बसा हो !!
याद वही आता है अकेले में !!

तकदीर के आईने में मेरी तस्वीर खो गई !!
आज हमेशा के लिए मेरी रूह सो गई !!
मोहब्बत करके क्या पाया मैंने !!
वो कल मेरी थी आज किसी और की हो गई !!

Thakur Status in Hindi | रॉयल ठाकुर स्टेटस

Gam bhari shayari hindi

ज़िंदगी रही तो याद सिर्फ !!
तुम्हे ही करते रहेंगे !!
भूल गए तो समझ जाना !!
अब हम ज़िंदा नही रहे !!

जाने दुनियाँ मे ऐसा क्यू होता है !!
जो सब को खुशी देता वही रोता है !!
उमर भर जो साथ ना दे सके वही !!
ज़िंदगी का पहला प्यार क्यू होता है !!

रोने की सजा न रुलाने की सजा है !!
ये दर्द मोहब्बत को निभाने की सज़ा है !!
हँसते हैं तो आँखों से निकल आते हैं आँसू !!
ये उस शख्स से दिल लगाने की सज़ा है !!

याद कितनी खूबसूरत होती है ना !!
ना लड़ती है ना झगड़ती है !!
खामोशी से बस किसी का नाम लेकर !!
दिल में उतर जाया करती है !!

हर बात में आंसू बहाया नहीं करते !!
दिल की बात हर किसी को बताया नहीं करते !!
लोग मुट्ठी में नमक लेके घूमते है !!
दिल के जख्म हर किसी को दिखाया नहीं करते !!

तेरी आंखें बता देती हैं !!
बेवफाई के सारे राज !!
अब छुपाए नही छुपते !!
दिल के झूठे जज्बात !!

वो बिछड़ के हमसे ये दूरियां कर गई !!
न जाने क्यों मोहब्बत अधूरी कर गई !!
अब हमें तन्हाइयां चुभती है तो क्या हुआ !!
कम से कम उसकी सारी तमन्नाएं तो पूरी हो गई !!

प्यार सभी को जीना सिखा देता है !!
वफा के नाम पे मरना सिखा देता है !!
प्यार नहीं किया तो करके देख लो यार !!
जालिम हर दर्द सहना सिखा देता है !!

कश्ती का डूब जाना ही अच्छा था !!
किनारे ने और बदनाम कर दिया !!
पुरानी गलतियां भूलने की कोशिश थी !!
नए इश्क ने और बर्बाद कर दिया !!

प्यार सभी को जीना सिखा देता है !!
वफ़ा के नाम पे मरना सिखा देता है !!
प्यार नहीं किया तो करके देख लो यार !!
ज़ालिम हर दर्द सहना सिखा देता है !!

Dukh ki shayari

कितना और दर्द देगा बस इतना बता दे !!
ऐसा कर ऐ खुदा मेरी हस्ती मिटा दे !!
यूं घुट घुट के जीने से तो मौत बेहतर है !!
मैं कभी न जागूं मुझे ऐसी नींद सुला दे !!

मुझे बहुत प्यारी है तुम्हारी दी !!
हुई हर एक निशानी !!
अब चाहे वो दिल का दर्द हो या !!
आँखों का पानी !!

अपना बनाकर फिर कुछ दिन में !!
बेगाना बना दिया !!
भर गया दिल हमसे तो मजबूरी !!
का बहाना बना दिया !!

फूलों की महक जैसे हैं !!
हम कोई पहचाने तो सही !!
दिल क्या चीज है !!
जान भी दे दे कोई मांगे तो सही !!

कहने को बहुत कुछ है !!
लेकिन कहना बस इतना है !!
मेरी रूह तो मर चुकी है आज देखते हैं !!
जिस्म की उम्र कितना है !!

रोज़ पिलाता हूँ !!
एक ज़हर का प्याला उसे !!
एक दर्द जो दिल में है !!
मरता ही नहीं है !!

जो नजर से इसकदर गुजर जाया करते हैं !!
वो सितारे भी अक्सर टूट जाया करते हैं !!
कुछ लोग तो दर्द को बयां नहीं होने देते !!
चाहे बस चुपचाप बिखर जाया करते हैं !!

तेरी आरज़ू भी मेरा ख्वाब है !!
जिसका रास्ता बहुत खराब है !!
मेरे ज़ख्मों का अंदाज़ा न लगा !!
दिल का पन्ना पन्ना दर्द की किताब है !!

हम तो उम्मीदों की दुनियां बसाते रहे !!
वो भी पल पल हमें आजमाते रहे !!
जब मुहब्बत में मरने का वक्त आया !!
हम मर गए और वो तो मुस्कुराते रहे !!

हर पल मैं यही सोचता रहा !!
कि कहां कमी रह गयी थी मेरी चाहत में !!
उसने तो इतनी शिदत्त से मेरा दिल तोड़ा !!
कि आज तक हम नहीं संभल पाए !!

Plus Sad Shayari in Hindi | सैड शायरी इन हिंदी

Dard bhari shero shayari

तू सुबह की किरण बनके मुझे सताती है !!
मुझे अपने गहरे दुख का एहसास दिलाती है !!
हमने कितनी भी कोशिश की तुझे भुलाने की !!
तेरी याद तो फिर भी मुझे बहुत रुलाती है !!
ये रोने की सज़ा न रुलाने की सज़ा है !!

उसने तो दर्द इतना दिया कि सहा न गया !!
उसकी आदत सी थी इसलिए रहा न गया !!
आज भी रोती हूं बहुत उसे दूर देख के !!
लेकिन दर्द देने वाले से यह कहा न गया !!

हम जिसे समझते रहे ज़िन्दगी !!
मेरी धड़कनों का फरेब था वो !!
मुझे मुस्कुराना सिखा के !!
वो मेरी रूह तक रुला गए !!

न जाने क्यों हमें अब आँसू बहाना नहीं आता !!
न जाने क्यों हाल-ऐ-दिल किसी से बताना नहीं आता !!
क्यों सब लोग बिछड़ गए हमसे !!
शायद हमें ही साथ निभाना नहीं आता !!

अनजाने में यूं ही हम दिल गंवा बैठे !!
इस प्यार में कुछ ऐसे धोखा खा बैठे !!
उससे क्या गिला करें भूल तो हमारी थी !!
जो बिना दिलवालों से ही दिल लगा बैठे !!

मेरे अरमानों को मिट्टी में मिला दिया !!
तुमने कैसे मुझे भुला दिया !!
कोई कसर नहीं छोड़ा तुम्हें चाहने में !!
और मेरी चाहत का ये सिला दिया !!

दिल ही तोड़ना था तो कह देती !!
कब तेरी मांग को झुठलाया है !!
बहुत पछताओगी एक दिन !!
क्योंकि तुमने सच्चा प्यार ठुकराया है !!

मेरी मोहब्बत के बदले !!
एक काम कर देना !!
भले मोहब्बत ना करना !!
पर नफरत भी ना देना !!

तेरी मोहब्बत के लिए !!
हम इतने तरस रहे हैं !!
कि तेरी एक झलक के लिए !!
मेरे नैना बरस रहे हैं !!

चाह थी हर खुशी नसीब हो !!
हर मंज़िल दिल के करीब हो !!
वहां ख़ुदा भी क्या करे !!
जहाँ इंसान ही बदनसीब हो !!

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *