अक्सर गुजरती हैं रातें तेरी यादों के साथ !!
अक्सर हर एक सवेरा नई आस लेकर आता है !!

उनको भी हमसे मोहब्बत हो ज़रूरी तो नही !!
इश्क़ ही इश्क़ की कीमत हो ज़रूरी तो नही !!

kuch alfaz,
alfaaz dil ke,
mere alfaaz,
alfaz dil ke,
urdu alfaz in hindi,
alfaz meaning in hindi,
alfaaz meaning in hindi,
kuch alfaaz kuch ehsaas,
golden alfaaz in urdu,
faasle meaning in hindi,
jaa bewafa jaa lyrics,
kuch nahi bas yuhi in english,
duriya najdikiya ban gayi,
ye jo zindagi ki kitaab hai,
keh do ke tum ho meri warna,
kadar karna meaning in hindi,
shayari pic urdu,

वक्त कम मिला साथ वक्त बिताने को !!
फिर एक जन्म लेंगे तुमसे मुकम्मल इश्क़ फरमाने को !!

काबिल नही थे फिर भी हमने इकरार किया !!
उम्मीद नहीं थी लौटने की फिर भी इंतज़ार किया !!

फिजूल हैं सारी दलीलें सब गवाह दीवानों की वकालत में !!
सुकून का कानून ही नही है इश्क़ की अदालत में !!

शिकायत नही जिंदगी से की तेरा साथ नही !!
बस तू खुश रहना यार हमारी कोई बात नही !!

इस निगाह से उसने देखा मुझको मेरा मुआयना हो गया !!
वो मेरे सामने खड़ा रहा और मैं उसका आइना हो गया !!

आधे यहां आधे वहां रखे हैं !!
ये ख्याल तुम्हारे जाने कहां कहां रखे हैं !!

क्या शिकवा क्या उम्मीद क्या मशवरा कीजिये !!
जाने वाले ने जाने की ठानी है जाने भी दीजिए !!

जिस बात से दिल डरता था वो हो गई !!
कुछ दिन के लिए क़िस्मत जागी थी अब सो गई !!

Masoom Chehra Shayari in Hindi | खूबसूरत चेहरे पर शायरी

Alfaaz shayari in Hindi

फिसल कर वक्त के फर्श पर उम्र ढल जाती है !!
कई बार बिना जिए भी जिंदगी गुज़र जाती है !!

ना पूछो तो लाख शिकवे हैं !!
पूछ कर देखो तो कोई बात नही !!

कुछ इस तरह से हमारी बातें कम हो गई !!
कैसे हो पर शुरू और ठीक हो पर खत्म हो गई !!

इश्क के भी अलग ही फसाने हैं !!
जो हमारे नही हैं हम उनके ही दीवाने हैं !!

वादों की तरह इश्क़ भी आधा रहा !!
मुलाकातें कम रहीं इंतजार ज्यादा रहा !!

इश्क़ में यह बात मुझे रह रह कर खटकती है !!
दिल उसका भरा था मुझसे तो आंख मेरी क्यूं छलकती है !!

जिंदगी जला ली हमने जैसी जलानी थी शाहब !!
अब धुएं पे तमाशा कैसा और राख पर बहस कैसी !!

ना अनपढ़ रहे ना काबिल हुए !!
खामखां ए जिन्दगी तेरे स्कूल में दाखिल हुए !!

लाज़मी नही है कि हर किसी को मौत छू कर निकले !!
किसी किसी को छू कर जिंदगी भी निकल जाती है !!

तकलीफ़ भी मिटी नही दर्द भी रह गया !!
पता नही आंसुओं के साथ क्या-क्या बह गया !!

Alfaaz shayari

कौन हूं कहां हूं क्या हूं क्या नही हूं मैं !!
खुद से खुद पे दस्तक दी और कह दिया नही हूं मैं !!

आग ज़हर मौत फिर सब प्यारी लगने लगती है !!
अपनी बेचारगी भी जब बेचारी लगने लगती है !!

कोई दर्द से बच जाए ये सवाल ही नही होता !!
क्योंकि मोहब्बत के रास्ते पर अस्पताल ही नही होता !!

फासला दिल से ना हो बस यही दुआ करना !!
कभी यादों में तो कभी ख्वाबों में मिला करना !!

मोहब्बत गुजरी थी कभी अपने भी करीब से !!
बड़ा महंगा था मामला संभाली ना गई मुझ गरीब से !!

जिंदगी में कुछ हसीन पल यूं ही गुजर जाते हैं !!
रह जाती हैं यादें और इंसान बिछड़ जाते हैं !!

दिल छोड़कर और कुछ माँगा करो हमसे !!
हम टूटी हुई चीज का तोहफ़ा नही देते !!

आंखों से भरोसे के अब ख़्वाब उतारे जाएं !!
कर लेंगे दोस्ती पहले नक़ाब उतारे जाएं !!

मुख्तसर सी जिन्दगी के भी अज़ीब फसाने हैं !!
यहां तीर भी चलाने हैं और परिंदे भी बचाने हैं !!

मिजाज़ अपना कुछ ऐसा बना लिया हमने !!
किसी ने कुछ भी कहा बस मुस्कुरा दिया हमने !!

Kuch alfaz

लुटा दिए थे कभी जो ख़ज़ाने ढूँढते हैं !!
नए जमाने में कुछ दिन पुराने ढूंढते हैं !!

मुद्दतें बीत गईं इक ख़्वाब सुहाना देखे !!
जागता रहता है हर नीद में बिस्तर मेरा !!

यही एक राहत भी और गिला भी यही !!
वो मिला तो सही मगर मिला ही नही !!

हादसों की जद में हैं तो क्या मुस्कुराना छोड़ दें !!
जलजलों के खौफ से क्या घर बनाना छोड़ दें !!

शहर भर में मजदूर जैसे दर-बदर कोई न था !!
जिसने सबका घर बनाया उसका घर कोई न था !!

लोग हर मोड़ पर रुक रुक के संभलते क्यों हैं !!
जब इतना डरते हैं तो घर से निकलते क्यों हैं !!

अहसास अपने थे अल्फाज़ भी अपने थे !!
बस वो ही नही पढ़ पाए जो ख़ास अपने थे !!

ज़िन्दगी यूँ ही बहुत कम है मोहब्बत के लिए !!
फिर एक दूसरे से रूठकर वक़्त गँवाने की जरूरत क्या है !!

वह जो औरों को बताती है जीने के तरीके !!
खुद अपनी मुट्ठी मेँ मेरी जान लिए बैठी है !!

एक उमर बीत चली है तुझे चाहते हुए !!
तू आज भी बेखबर है कल की तरह !!

Alfaaz dil ke

चलो माना कि हमें प्यार का इज़हार करना नहीं आता !!
जज़्बात न समझ सको इतने नादान तो तुम भी नहीं !!

फासले रख के क्या हासिल कर लिया तूने !!
रहती तो आज भी तू मेरे दिल में ही है !!

कुछ उसे भी दूरियाँ पसंद थीं !!
और कुछ मैंने भी वक़्त मांगना छोड़ दिया !!

बिछड़ के तुझसे किसी दूसरे पर मरना है !!
ये तजुर्बा भी इसी जिन्दगी में करना है !!

तुम्हारा साथ छूटने के बाद !!
बड़े हल्के से पकड़ता हूं अब मै सबकुछ !!

एक दूरी बनाए रखनी थी !!
सबसे नजदीकियां निभाते हुए !!

मत देख वो शख्स गुनहगार है कितना !!
ये देख की तेरे साथ वफादार है कितना !!

जिसके होने से मै खुद को मुकम्मल मानता हूं !!
मै ख़ुदा से पहले मेरी मां को जानता हूं !!

उनके आने से आ जाती है मेरे चेहरे पे रौनक !!
और वो समझते हैं कि मेरा हाल अच्छा है !!

बाक़ी ही क्या रहा है तुझे माँगने के बाद !!
बस इक दुआ में छूट गए हर दुआ से हम !!

True Love Radha Krishan Shayari in Hindi | राधा कृष्ण की प्रीत

Mere alfaaz

हर रात जान बूझकर रखता हूँ दरवाज़ा खुला !!
शायद कोई लुटेरा मेरा गम भी लूट ले !!

वो सुना रहे थे अपनी वफाओ के किस्से !!
हम पर नज़र पड़ी तो खामोश हो गए !!

तमाम उम्र गुजार देगें हम राह-ए-इंतजार में !!
झूठा ही सही पर आने का एक वादा तो कर दे !!

खाली वक़्त में कभी याद आऊं !!
समझ लेना तुम्हारे अंदर कहीं जिन्दा हूँ मै !!

माना की तुझसे दूरियां कुछ ज्यादा ही बढ़ गई है !!
पर तेरे हिस्से का वक्त आज भी तन्हा गुजरता है !!

एक साथ चार कंधे देखकर जहन में आया !!
एक ही काफी था गर जीते जी मिला होता !!

जिसे खोने का डर हमें सबसे ज्यादा होता है !!
उसे एक दिन हम खो ही देते हैं !!

ये बारिश जो यूं उमड़ पड़ी है !!
लगता है तुम शहर में हो !!

तेरी याद तेरी चाहत शायरी के अल्फाज बन गए !!
भरी महफिल में लोग मेरे दर्द को भी वाह वाह कह गए !!

अल्फ़ाज़ों में क्या बयां करें अपनी मोहब्बत के अफ़साने !!
हमारे में तो तुम ही हो तुम्हारे दिल की खुदा जाने !!

Alfaz dil ke

दोस्त बेशक एक हो लेकिन ऐसा हो !!
जो अल्फाज से ज्यादा खामोशी को समझें !!

क्या लिखूं और कितना लिखूं दिल के एहसासों को !!
जिंदगी भरी पड़ी है सब अनकहें अल्फाज़ों से !!

एक उम्र कटी दो अलफ़ाज़ में !!
एक आस में एक काश में !!

दिल चीर जाते हैं ये अल्फाज उनके !!
वो जब कहते हैं हम कभी एक नहीं हो सकते !!

ये जो खामोश से अलफ़ाज़ लिखे है न !!
पढ़ना कभी ध्यान से चीखते कमाल है !!

कहने को शब्द नही लिखने को भाव नही !!
दर्द तो हो रहा है पर दिखाने को घाव नही !!

हम दिल के सच्चे कुछ एहसास लिखते हैं !!
मामूली शब्दों में ही सही कुछ ख़ास लिखते हैं !!

सौ बार कहा दिल से चल भूल भी जा उसको !!
हर बार कहा दिल ने तुम दिल से नहीं कहते !!

ना दिल के जज़्बात अलग ना मोहब्बत के अंदाज़ अलग !!
थी बात तो बस लकीरों की तेरे हाथ अलग मेरे हाथ अलग !!

मेरी आँखों से वो सवाल पूछती है !!
दिल में रह कर दिल का हाल पूछती है !!

Urdu alfaz in hindi

उसकी आँखों में रहुँ या दिल में उतर जाऊँ !!
उसकी बालों में उलझु या होठों पे ठहर जाऊँ !!

इश्क के भी अलग ही फसाने हैं !!
जो हमारे नही हैं हम उनके ही दीवाने हैं !!

अक्सर गुजरती हैं रातें तेरी यादों के साथ !!
अक्सर हर एक सवेरा नई आस लेकर आता है !!

सिर्फ़ ज़िंदा रहने को ज़िन्दगी नही कहते !!
कुछ गम-ए-मोहब्बत तो कुछ गम-ए-जहां यारों !!

मोहब्बत उनसे दोबारा नही होगी !!
बस शर्त है वो सामने ना आए !!

दिल चाहे हज़ार बार चीखे उसे चिल्लाने दीजिये !!
पर जो आपका नहीं हो सकता उसे जाने दीजिए !!

तुम जहां भी रहो बस चैन से रहना यारा !!
तेरा साथ नहीं तेरा सुकून मेरा मकसद है !!

हर एक राज़ कह दिया बस एक जवाब ने !!
हमको सिखाया वक़्त ने तुमको किताब ने !!

साथ जब भी छोड़ना मुस्कुरा कर छोड़ना !!
ताकि दुनिया ये न समझे हममें कोई दूरी थी !!

कुछ रिश्तों में रूह की गाँठ बंधी होती है !!
वही फेरे होते हैं मोहब्बत से मोहब्बत के !!

Kuch alfaaz kuch ehsaas

एक तुम ही हमारे किसी तरह से ना हुए !!
वर्ना होने को दुनियाँ में क्या-क्या नहीं होता !!

तहज़ीब ना सिखाइए मोहब्बत में हमें !!
एक मुद्दत से सिर्फ तस्वीरों में देखा है उन्हें !!

लिख कर ख्वाहिशें कागज पर मैं रोज मिटाता हूँ !!
तेरी जुस्तजू ना करे दिल को रोज समझाता हूँ !!

मन बावला हो जाता है उसके इन्तज़ार में !!
जाने कौनसी बात है इस निगोडे़ के प्यार में !!

बहुत संभाल के रख़ें हैं तुम्हारे ख़याल !!
एक तस्वीर वो बेपनाह इश्क और कई साल !!

तुम इश्क की ख़ुद इक दुनिया हो शायद ये तुम्हें मालूम नहीं !!
महफ़िल में तुम्हारे आने से हर चीज़ पे नूर आ जाता है !!

मोहब्बत दिल में गर हो तो ज़ुबां पर भी मचलती है !!
ये खुशबू है बिखर कर के हवाओं में महकती है !!

हाथ रख दिल पे मेरे और कसम खा के बता !!
क्या मेरी तरह तुझे चाहने वाला कोई है !!

मेरी तन्हाइयों तुम ही लगा लो मुझको सीने से !!
कि मैं घबरा गया हूँ इस तरह रो रो के जीने से !!

आज मौसम का गुरूर तो देखो !!
जैसे मेरे महबूब का दीदार कर आया हों !!

Sai Baba Status in Hindi | साईं बाबा स्टेटस

Faasle meaning in hindi

ख़ामोशी से सब कह दिया ये सलीका था मेरा !!
तुम सुन कर समझ न पाया वो तरीका था तेरा !!

अगर ज़िंदगी में मोहब्बत न होती !!
किसी को किसी की जरूरत न होती !!

चलते चलते थक गया तो पूछा पाँव के छालों ने !!
कितनी दूर बसाई है दुनिया तेरे चाहने वालो ने !!

तुझसे मिलकर मैं तुझमे ही बस जाऊँ
तू गंगा बने तो मैं ऋषिकेश हो जाऊँ !!

अभी भी नरम बातों की महक आती है साँसों में !!
कैसे तुमने गले लगाया था हमें बातों ही बातों में !!

इश्क़ में सुकूँ कहाँ बेकरारी ही बेकरारी !!
हिस्से में कभी हमारी कभी तुम्हारी बारी !!

इश्क़ की नीलामी थी वफ़ा के बाजार में !!
जो बेवफ़ा था मोहब्बत खरीद ले गया !!

हर बात पे महके हुए जज़्बात की खुशबू !!
आज याद बहुत आयी उनसे मुलाक़ात की खुशबू !!

कर दिया ना फिर से तन्हा !!
कसमें तो ऐसे खाते थे जैसे सिर्फ मेरे हो तुम !!

बड़ी आरूजु थी महबुब को बेनकाब देखें !!
दुपट्टा जो सरका तो जुल्फें दीवार बन गई !!

Alfaaz meaning in hindi

मैं तुझको जागती आँखों से छूू सकु ना कभी !!
मेरी अना का भरम रख ले मेरे ख़्वाब में आकर !!

मेरा चेहरा इसलिए भी ज़र्द रहता है !!
मुझे अपने अलावा भी किसी का दर्द रहता है !!

हमारे ख्वाब में अक्सर तुम्हारे अक्स आते हैं !!
लब खामोश हैं लेकिन नयन सब कुछ बताते हैं !!

तुम चाहे मुझसे कितनी भी दूर चले जाना !!
मैं नहीं भूलूँगा तुम्हें अल्फ़ाज़ों से सजाना !!

कर लेना दिल से बस याद तुम हमको इकबार !!
खयाल ए इंतज़ार से पहले हम तुम्हारे होंगे !!

एक नया फूल खिला अफसाने में !!
उसने मुड़ कर देख लिया अनजाने में !!

अकसर वो फ़ैसले मेरे हक़ में गलत हुए !!
जिन फ़ैसलों के नीचे तेरे दस्तख़त हुए !!

जहां रुक जाऊं वहीं मिल जाना तुम !!
इस भीड़ में मुझे कोई अपना भी चाहिए !!

जुदाई इश्क़ का दस्तूर क्यूँ है हम नहीं समझे !!
मोहब्बत इस क़दर मजबूर क्यूँ है हम नहीं समझे !!

ना जाने करीब आना किसे कहते है !!
मुझे तो आपसे दूर जाना ही नही आता !!

Ye jo zindagi ki kitaab hai

उठ जाता है भरोसा तो दोबारा नहीं हो सकता !!
जो आंसुओ की वजह बने वो कभी तुम्हारा नहीं हो सकता !!

मौसम में भी रंग भर जाता था !!
जब वो छत पर नज़र आता था !!

गुज़र चुका जो वक़्त उसको याद करना क्या !!
अब बहुत हुआ ऐ इश्क़ तेरे लिए रोज़ रोज़ मरना क्या !!

छुपती फिरेंगी शर्म के मारे उदासियां !!
बस इक मेरे महबूब के हंसने की देर है !!

इस दिल में किस किस को जगह दें साहब !!
ग़म रखें दम रखें फरियाद रखें या तेरी याद रखें !!

हमने बस मोहब्बत की थी शिद्दत वाली !!
उसने लफ़्ज़ों वादों के हेर-फेर में मार डाला !!

साथ भीगें बारिशों में ये तो अब मुमकिन नहीं !!
चल भीगें यादों में तू कहीं मैं कहीं !!

असल में वो रुका हुआ नहीं था !!
मैं ने पकड़ा हुआ था छोडा छूट गया !!

हल्की कत्थई ख़ूब गहरी सी वो मस्त मलंग आँखें !!
हाय रब्बा कह गयी खामोशी में भी हजार बातें !!

इश्क़ में तुम तो सिर्फ़ रुसवा हुए हो !!
मगर हम तो सरेआम तमाशा हो गए !!

Duriya najdikiya ban gayi

फिर कोई जुदा नहीं कर पायेगा हमें !!
अगले जन्म आऊंगा तेरे मजहब का बन कर !!

सिर्फ लफ्ज़ नहीं ये दिलों की कहानी है !!
हमारी शायरी ही हमारे प्यार की निशानी है !!

दफ़्न कर दो हमें के साँस मिले !!
नब्ज़ कुछ देर से थमी सी है आज फिर !!

ये इश्क भी बेसबब हसरतें पाल लेता है !!
रेत का सफर है और दरिया थाम लेता है !!

कोई शर्त नहीं है कोई शिकायत नहीं है !!
तुमसे बस सीधी सी मुहब्बत है !!
दीदार की चाहत है तुमसे !!

नज्मों से ना तोलो जज़्बातों को !!
कागज़ पर उतारने में और
दिल से गुज़रने में फर्क होता है !!

अजीब किस्सा है उनके और हमारे दरमियान !!
वो मुझे तोड़ने में कसर नहीं !!
छोड़ते हम उन्हें टूटकर चाहने में !!

कलम से लिख नही सकते प्रेमी दिल के अफसाने !!
हम तुम्हे दिल से याद करते है !!
बाकी तुम्हारे दिल की खुदा जाने !!

इश्क़ हुआ है तुमसे बस यही ख़ता है मेरी !!
तुम दिल हो तुम मोहब्बत हो !!
और तुम ही कमजोरी हो मेरी !!

कैसे कह देते हैं लोग रात गई बात गई !!
यहां जमाने गुजर जाते हैं दिल पर लगी
बात को भुलाने में !!

Suvichar in Hindi | सुविचार हिंदी में

Kadar karna meaning in hindi

हम दोनों ही करते हैं यूँ उल्फत का पूरा इंतजाम !!
दिल को छूना मेरा काम और
दिल को धड़काना उसका काम !!

मेरी बेतुकी सी बातों पर वो हंसता बहुत था !!
एक शख़्स मेरी खुशी के लिए जिन्दगी से
लड़ता बहुत था !!

शायर है हम शराबी नहीं !!
जब तक चाय नहीं पीते !!
अल्फाज पन्नों पर नहीं बरसते !!

हर शख्स मुझे जिंदगी जीने का तरीका बताता है !!
उन्हे कैसे समझाऊं की कुछ ख्वाब अधूरे हैं मेरे !!
वरना जीना तो मुझे भी आता है !!

रहकर तुझसे दूर कुछ यूं वक्त गुजारा मैने !!
ना होंठ हिले ना आवाज़ आई !!
फिर भी हर वक्त तुझको पुकारा मैने !!

मत पूछना कभी दोबारा !!
कि तुम मेरे क्या लगते हो !!
जैसे दिल के लिए धड़कन जरूरी है !!
वैसे मेरी साँसों के लिए तुम जरूरी हो !!

किसी गैर को क्या हम कुछ कहेंगे !!
हम तो परेशान हैं ख़ुद की तकलीफों से !!
हम तो बस कलम से दिल का हाल लिखते है !!
और लोग कहते है कि खलनायक आप कमाल लिखते है !!

मुझे तुझसे कोई शिकवा या शिकायत नही !!
शायद मेरे नसीब में तेरी चाहत नही है !!
मेरी तकदीर लिखकर खुदा भी मुकर गया !!
मैने पूछा तो बोला ये मेरी लिखावट नही है !!

मै महफ़िल में आए हर शख्स के गले लगा !!
क्यूंकि आशिकों की महफ़िल थी और दिल सबके टूटे थे !!
जो कुछ नज़र आ रहा है वो कुछ और है !!
बातें कुछ और है तमाशा कुछ और है !!

जिद करना तभी अच्छा होता है !!
जब किसी का उससे भला होता है !!
उस जिद क्या करना जिससे !!
किसी का दिल तबाह होता है !!

Shayari pic urdu

चीज जिसे दिल कहते हैं !!
भूल गए हैं रख कर कहीं !!
एहसास जिसे प्यार कहते हैं !!
भूल गए हैं वो दफना के कहीं !!

दोस्तों से रिश्ता रखा करो !!
जनाब तबियत मस्त रहेगी !!
ये वो हकीम हैं जो !!
अल्फ़ाज़ से इलाज कर दिया करते हैं !!

मैं अल्फाज़ हूँ तेरी हर बात समझता हूँ !!
मैं एहसास हूँ तेरे जज़्बात समझता हूँ !!
कब पूछा मैंने कि क्यूँ दूर हो मुझसे !!
मैं दिल रखता हूँ तेरे हालात समझता हूँ !!

मुझे तुझसे कोई शिकवा या शिकायत नही !!
शायद मेरे नसीब में तेरी चाहत नही है !!
मेरी तकदीर लिखकर खुदा भी मुकर गया !!
मैने पूछा तो बोला ये मेरी लिखावट नही है !!

तमन्ना जब किसी की नाकाम होती है !!
जिंदगी उसकी एक उदास शाम होती है !!
दिल के साथ दौलत ना हो जिसके पास !!
मोहब्बत इस गरीब की नीलाम होती है !!

कशिश तो बहुत है मेरे प्यार में !!
लेकिन कोई है पत्थर दिल जो पिघलता नही !!
अगर मिले खुदा तो मांग लूंगा उसको !!
पर सुना है खुदा मरने से पहले मिलता नही !!

नियम भी हैं कायदे भी हैं
रस्में भी हैं वायदे भी हैं !!
तुमने नुकसान उठाया है !!
पर सुनो इश्क़ के अपने फ़ायदे भी हैं !!

बुझ जाएंगी सारी आवाज़ें !!
यादें यादें रह जायेंगी !!
तस्वीरें बचेंगी आँखो में !!
और बातें सब बह जायेंगी !!

कुछ खोए हैं अल्फाज़ मेरे !!
कुछ दिन में भी रानाई है !!
खामोश हुए अरमान भी हैं !!
और फिज़ा में छाई तन्हाई है !!

मेरे दिल की राख कुरेद मत !!
इसे मुस्कुरा के हवा न दे !!
ये चराग़ फिर भी चराग़ है !!
कहीं तेरा हाथ जला ना दे !!

Swami Vivekananda Quotes in Hindi | स्वामी विवेकानंद के अनमोल वचन

Kuch nahi bas yuhi in english

जख्म तो आज भी ताज़ा है !!
पर वो निशान चला गया !!
मोहब्बत तो आज भी बेपनाह है !!
पर वो इंसान चला गया !!

इस तरह भी होता है !!
इश्क आजमाकर तो देख !!
बिना मिले उम्र भर चलता है !!
सिलसिला निभा कर तो देख !!

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *